अमानक वर्ण

अमानक वर्ण   Hindi grammar questions  for competitive exam  part-5   1  शुद्ध वर्तनी    2 . अमानक वर्ण   (i)  - शुद्ध वर्तनी ➨ बर्तन की शुद्ध " वर्तनी " क्या है ?   बर्तन का शुद्ध वर्तनी ➨ "बर्तन " का शुद्ध वर्तनी   "बरतन " है ∣   (ii) . अमानक वर्ण - हिंदी में बहुत से ऐसे वर्ण हुआ करते थे ,जो की वर्तमान समय में चलन में नहीं है ,अथवा हिंदी के मूल वर्णो में शामिल नहीं है।  इस प्रकार के  सभी वर्ण " अमानक वर्णो " की श्रेणी में  आते हैं Ι  अर्थात वे   " वर्ण " जो पूर्व में तो मान्य रहे हो ,परन्तु वर्तमान वर्णमाला के दृस्टीकोण   से मान्य न  होते हो , अमानक वर्ण है ।     अमानक वर्ण क्या है ➨ ऐसे वर्ण जिनका कोई " मानक " न हो , तथा जो सर्वमान्य न हो " अमानक " वर्ण है , अथवा ऐसे वर्ण जिनका पहले तो मानक रहा हो परन्तु वर्तमान समय में उनका कोई " मानक " न  हो अमानक वर्ण कहलाते है ।   अमानक वर्ण किसे  कहते है ➨ जब कोई वर्ण वर्तमान परिपेक्ष्य  के मानकों  पर खरा नहीं उतरता अथवा

new Sanskrit objective question for coming exam 2020-21


 New Sanskrit objective question for coming exam 2020-21


new Sanskrit objective question for coming exam 2020
sanskrit



 संस्कृत (PART -1) मॉक टेस्ट 


sanskrit

 संस्कृत (PART -2) वर्णमाला एवं टेस्ट 


sanskrit


 संस्कृत PART 3 (प्रीवियस पेपर) टेस्ट 

संस्कृत



 संस्कृत PART 4  - संधि टेस्ट 






नमस्कार दोस्तों , संस्कृत भाषा के इस सभी टेस्ट में विभिन्न महत्वपूर्ण प्रश्नों को दिया गया है। जो कि विभिन्न प्रकार के संस्कृत भाषा के  एग्जाम  tet/net/reet/ctet/mptet/rtet/reet/ स्कूल्  व्याख्याता हेतु अथवा अन्य परीक्षाओ के लिए उपयोगी  है। इन टेस्ट के  माध्यम से संस्कृत विषय में वर्णमाला से लेकर संधि और समास तक को समझाया गया है। साथ ही साथ इसके टेस्ट भी दिए गए है ,जो कि सभी परीक्षाओ के लिए उपयोगी है। 

संस्कृत भाषा के इन सभी टेस्ट के माध्यम से आप अपने परीक्षाओं के पहले स्वयं को मूल्यांकन कर सकते है।साथ ही  इन सभी संस्कृत टेस्ट में प्रिवियस परीक्षाओ के प्रश्नों को भी शामिल किया है। जिसमे कि पिछले 5 वर्षों से भी अधिक के प्रश्नों  को भी सम्मलित किया गया  है। 

संस्कृत भाषा में परीक्षाओ में अच्छे अंक लाने के लिए टेस्ट एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसलिए हमे यह ज्ञात होना चाहिए कि हम अधिक से अधिक संस्कृत टेस्ट दे जिससे कि परीक्षाओं में हमारा प्रदर्शन बेहतर हो सके। 



इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अमानक वर्ण

प्रौढ़ावस्था किसे कहते हैं

विकास की अवस्थाएं