अमानक वर्ण

अमानक वर्ण  Hindi grammar questions for competitive exam part-5




1  शुद्ध वर्तनी    2 . अमानक वर्ण 

 (i)  -शुद्ध वर्तनी ➨ बर्तन की शुद्ध " वर्तनी " क्या है ?
बर्तन का शुद्ध वर्तनी ➨ "बर्तन " का शुद्ध वर्तनी   "बरतन "है ∣

  (ii) . अमानक वर्ण - हिंदी में बहुत से ऐसे वर्ण हुआ करते थे ,जो की वर्तमान समय में चलन में नहीं है ,अथवा हिंदी के मूल वर्णो में शामिल नहीं है।  इस प्रकार के  सभी वर्ण " अमानक वर्णो " की श्रेणी में  आते हैं Ι
 अर्थात वे   " वर्ण " जो पूर्व में तो मान्य रहे हो ,परन्तु वर्तमान वर्णमाला के दृस्टीकोण   से मान्य न  होते हो , अमानक वर्ण है ।
अमानक वर्ण क्या है ➨ ऐसे वर्ण जिनका कोई " मानक " न हो , तथा जो सर्वमान्य न हो " अमानक " वर्ण है , अथवा ऐसे वर्ण जिनका पहले तो मानक रहा हो परन्तु वर्तमान समय में उनका कोई " मानक " न  हो अमानक वर्ण कहलाते है ।

अमानक वर्ण किसे  कहते है ➨ जब कोई वर्ण वर्तमान परिपेक्ष्य  के मानकों  पर खरा नहीं उतरता अथवा वर्तमान में स्वीकार वर्णमाला में शामिल न  हो , अथवा पूर्व में स्वी…

ok full form

ok full form

ok full form
ok full form





questions 1 - what is ok full form ?


answer - OK  (OLL Korrect)




प्रश्न 2 -  OK (OLL Korrect ) का हिंदी में क्या अर्थ है ?




उत्तर -  " ठीक है  "




दोस्तों ,हम लोग अक्सर अपने आम बोल चाल के भाषा में " ok " शब्द का प्रयोग करते है। पर हम में से अधिकतर लोगो को इस शब्द का full form पता नहीं होता है।हम देखते है कि  " ok " शब्द का प्रयोग इतना प्रचलन में है ,कि इस शब्द को पढ़े - लिखे ही नहीं बल्कि बिना पढ़े लिखे व्यक्ति भी इसका प्रयोग करते है। बहुत से लोगो की पूरी जिंदगी ok  बोलते हुए हो जाती है ,परन्तु ok  शब्द का उन्हें फुल फॉर्म भी पता नहीं होता है। हमारे देश ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में ये ok शब्द इतना पॉपुलर है। कि बिना लोग इस शब्द के प्रयोग को किये बगैर अपनी बात को समाप्त ही नहीं कर  पाते है। 

  ok शब्द का यदि हम पूरा नाम लेते है तो बनता है - " OLL Korrect " जो कि लेने में काफी बड़ा होता है। इसलिए OLL Korrect " शब्द का प्रयोग हम उसके short form में करते है जैसे कि  OK " 

परन्तु अब यह " ok " शब्द इतना प्रचलन में आ गया है ,कि लोगो को 
" ok  " का full form भी होगा ऐसा सोचने का भी समय नहीं है। कियोकि उन्होंने इसी ok शब्द को ही मूल शब्द मान लिया है। अर्थात लोगों को या तो पता ही नहीं है ,कि ok का भी full form होगा या अगर होगा भी तो उन्हें जानने में ऐसी कोई भी दिलचस्पी नहीं है। कियोकि लोगो का ok के फुल फॉर्म को जाने बिना भी काम चल सकता है ,और चलता रहेगा। 

यदि समान्य रूप से बात करे तो ok शब्द का प्रयोग विश्व भर के लगभग सभी देशो में होता था ,है और आगे भी रहेगा। इसका मुख्य कारण है। कि यह शब्द लोगो के आम बोल - चाल भाषा में पहुंच चुका  है अतः इस शब्द के बिना अपनी बात को कहना ,सुनना अथवा समाप्त करना काफी मुश्किल हो जाता है। कियोकि जिस व्यक्ति को आप अपनी बात को समझा रहे है उसे आप ok शब्द के स्थान पर यदि किसी अन्य शब्द को प्रयोग करके समझायेंगे तो शायद वह उस बात को उतना अच्छी तरह से नहीं समझ पाएगा। जिसना वह इन दो शब्दों ok से समझ जायगा। इसका प्रमुख कारण है ok शब्द का इतना पॉपुलर होना , कि प्रत्येक व्यक्ति उसे सही तरह से समझता है। 


ok
ok 

















इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अमानक वर्ण

बाल विकास को प्रभावित करने वाले कारक pdf

sanskrit varnamala mock test